peperonity.net
Welcome, guest. You are not logged in.
Log in or join for free!
 
Stay logged in
Forgot login details?

Login
Stay logged in

For free!
Get started!

Mobile Blog


बड़े साधारण से बोल है,पर इसमे छिपे दर्द को आज कैसे कहूँ समझ नहीं आ रहा है. चलिए शुरु से शुरु करते हैं..मुझे तो आप जानते ही हैं मैं वही पागल अरुण हू... Read more
अंधेरा बढ़ऩे लगा है, कदम लड़खड़ाते हैं, गुमसुम, चुपचाप, ये कौन हैं जो चले जाते हैं ? अपऩे कदमों की आहट से चौंक पड़ते हैं, खुद से डरते हुए, सहमे से,... Read more
ओ हैलो कुछ और समझने की कोई जरुरत नहीं है, मैं आपको अपना ब्लड ग्रुप नहीं बता रहा हूँ ओके..कभी तो मुझे सीरियसली लिया करो यार.. मैं सकारात्मक सोच की ब... Read more
मैंनें एक पत्थर दिल को देखा, दिल की गहराईयों में उतरते हुए, ख़ंजर की तरह, देखने में बड़ी भोली, मासूम सी लगती है, लड़की जैसी, फिर क्यों कत्ल कर दिया... Read more
मैं एक मीठा लड्डू हूँ, शादी का, सब कहते है पछताऐंगे, तो खाकर, आप खाओगे मुझे ? बोलो ना कब खाओगे ? भावनाओं के मावे से बनाया गया हूँ, परंपराओं... Read more
words - Newest pictures
सोचता हूँ मैं,कि तुम क्या सोचती हो, किस तरह खामोशियों को कोसती हो, किस तरह गाती हो, गुमसुम से तराने, किस तरहा अनजान आँसु पोंछती हो ? सोचता हूँ मैं.... Read more
कितना दुखभरा शीर्षक है ना.. आज मेरा मन भी ऐसे दुखी आत्माओं वाले गाने सुनने को कर रहा है. हैलो..मुझे कुछ हुआ नहीं है ओके. बस ऐसे ही मन कर रहा है जैस... Read more
दोस्तों, हर चीज की नकल होती होगी लेकिन एक 'चोर' ऐसा है जो हुबहु मेरे व्यक्तित्व का नकाब ओढ़े घूम रहा है..जी .. वो इस हद तक मुझसे मिलता जुलता है कि क... Read more
◄ Previous part | Next part ►


This page:




Help/FAQ | Terms | Imprint
Home People Pictures Videos Sites Blogs Chat
Top
.