peperonity.net
Welcome, guest. You are not logged in.
Log in or join for free!
 
Stay logged in
Forgot login details?

Login
Stay logged in

For free!
Get started!

Mobile Blog


ye mele jaisa ek aul kaun dikh lha h - Newest pictures
abhivyakti.peperonity.net

अरे ! सब कुछ दिखता है यार.......

29.09.2011 16:42 EDT
अजीब शीर्षक है, है ना. बहुत दिन हुए, टीवी पर एक विज्ञापन चला करता था. जिसमें एक बच्चा अपने पारदर्शी बालपेन को देखकर ये कहता है कि अरे सबकुछ दिखता है . ये सुनते ही उस बच्चे के मंतव्य से अनजान एक महिला अचानक अपने छोटे कपड़ों में से झाँकते अपने अधनंगे शरीर को ढाँपने का प्रयास करती हुई वहीं सिमट जाती है. कुछ अन्य भी जल्दी से अपना अपना छुपाने लायक सामान छुपाने के जुगाड़ में लग जाते हैं. बच्चा अपने बालपेन को देखकर फिर से मुस्कुराता है.
समाज की एक छोटी सी विसंगति पर कटाक्ष करने वाले उस विज्ञापन पर मुझे बहुत हंसी आती थी. कोई कुछ भी कहे पर सच है कि सब कुछ दिखता है.
आप इस नेट का ही उदाहरण लें, यहाँ बहुत सी ऐसी बातें, जो लोग किसी को कह कर नहीं बताते, वो भी पता चल जाती है. अपने को डिसेंट बातें करने वाला कहने वाले कुछ लोगों की पोल, उनकी अपनी मित्र व मनपंसद साइट की सूचियाँ, खोल देती हैं.
मैंनें किसी एक अज्ञात जीनियस का स्मरण करते हुए अपनी एक पूर्व प्रविष्ठि में कहा था कि बिना कुछ बताए मात्र उनके शब्द चयन और भाषा मात्र से ही उनकी वैचारिक विशिष्टता का आभास हो जाता था. कारण वही है जो शीर्षक में लिखा है, क्योंकि सच है कि सब कुछ दिखता है.
अब भी यकीन न आया हो तो आप स्वयं को एक अन्य उदाहरण देकर पूछे कि ये सत्य है अथवा नहीं. स्वामी रामदेव को पीटवाने वाले कौन लोग थे और उनकी मंशा क्या थी? सब जानते है क्योंकि सब कुछ दिखता है. स्विस बैंकों में जमा धन वापस लाने के प्रयास विफल करने वाले कितने बड़े ''देशभक्त'' हैं सब जानते है क्योंकि सब कुछ दिखता है. आडवाणी 'जी' की यात्राओं का उद्देश्य सबको दिखता है . भागलपुर दंगे, 1984 के सिख दंगे और 2002 गोधरा के अपराधियों को भी देश पहचानता है
अब जो वहम में हैं उन्हें उनके हाल पर छोड़िए, की फर्क पैंदा ए...:)...



जय श्री कृष्ण..
॥अरुण॥
Next part ►


This page:




Help/FAQ | Terms | Imprint
Home People Pictures Videos Sites Blogs Chat
Top
.