peperonity.net
Welcome, guest. You are not logged in.
Log in or join for free!
 
Stay logged in
Forgot login details?

Login
Stay logged in

For free!
Get started!

Multimedia gallery


untitled - Newest pictures
dil.ki.awaz.sun.peperonity.net

DUNIYA AUR HUM

BHARAT KI MAHANTA

Vafa pyar aur insaniyat kaha hai,Mere shaher me ab sharafat kaha hai.Har ek aastin me hai khanjar chhupaye,Kisi ko kisi se MOHABBAT kaha hai.Ye jee chahta hai ke sach bat bolen magar,Sach ki duniya me kimat kaha hai.Fakiron sa pahne huye hu labada,Ye posak ki koi kimat kaha hai.Garibon ko jo apne sine se lagaye,Kisi me vo AHESAS-E-GAIRAT kaha hai.
px rani of jhansi - Newest pictures

उम्मीदें टूटती हैं और टूटते हो तुम तमस की गहरी खाई में हो जाते हो गुम इसीलिए कहता हूँ कोरी उम्मीदें मत बांधों उठो अभी साहस है तुममे दुनिया को दिखला दो अपनी राहें आप बनाना ये सब तुमने सीखा है आखिर इसके माली हो तुम ये जो बागीचा है किस सोच के भंवर में नैया फाँसी तुम्हारी है मुख पर छाई कालिमा ये कैसी लगी बीमारी है इक उम्मीद टूटने से क्यूं मायूस हुए जाते हो जीवन के समुंदर में छोटी नदियों की तरह खो जाते हो ये वक्त नहीं मायूसी का अब इसका दामन तुम छोडो बढ जाये मार्ग पर कदम तुम्हारे और शिखर को तुम छूलोअपने साहस का परचम तुम नीलगगन में लहरा दो हैं अब भी मजबूत इरादें तुम सारी दुनिया से कह दो.......

picture by FRIEND PANKAJ


This page:




Help/FAQ | Terms | Imprint
Home People Pictures Videos Sites Blogs Chat
Top
.