peperonity.net
Welcome, guest. You are not logged in.
Log in or join for free!
 
Stay logged in
Forgot login details?

Login
Stay logged in

For free!
Get started!

Text page


india.todays.peperonity.net

E-sugam Report

महोदय, निवेदन है कि सुगम परिवाद श्री राकेश कुमारपुत्र श्री सुरजाराम जाति कुम्हार उम्र २८ साल ननिवासी कीकरवाली तहसली रायसिहनगर का इस आश्य का प्राप्त हुआ कि मेरी वाईफ को गुमराह करके मुझ दहेज का मुकदमा अनूपगढ कोर्ट से करवाया गया है मुकदमा लगभग तीन साल से चल रहा है मुझे न्याय नही मिल रहा मेरी वाईफ के पेरेन्टस मुझे कोर्ट में पेश नही होने दे रहे मेरे वकील बिक चुके है व में बेरोजगार हूँ मुझसे जबरन तलाक मांगा जा रहा लङकी से मेरी कोई बात नही करवाई जा रही है। मेरा छ साल के बेटे से मुझे नही मिलने दिया जा रहा है मेरी ससुराल वालेमुझसे जबरन तलाक के साथ दो लाख रूपये मांग रहे है मुझे१५सितम्बर २०१२तक का टाईम दिया गयामें मुसीबत में हूँ मेरे पास कोई सम्पति नही है मै पैसा कहा से लाऊ मेरी वाईफ तलाक लेकर तलाक शुदा महिला कोर्ट में टीचर की नौकरी लगना चाहती है इसलिए म जबरन तलाक दिलवाया जा रहा प्लीज मेरी सहायता करो वगैरासुगम परिवाद प्राप्त होने पर जांच श्री कमललालएचसी १७३ के सुपुर्द की गई। एचसी ने ब्यान श्री राकेश कुमार,लक्ष्मी रानी वा पुर्णराम के ब्यान लिखे जाकर शामित परिवाद किये एचसी द्वाराजांच से पाया गया की ससुराल पक्ष द्वारा रूपये की मांग नही की गई ना ही १५सितम्बर तक का टाई म दिया गया है ना ही तलाक की बात की है।अदालत में मुकदमा चल रहा है जो भी उसका फैसला होगा उसके बाद ही कोई निर्णय लीया जावेगा जो जांच से झूठी पाई गई। अत- सुगम परिवाद रिपोट बाद जांच अवलोकनार्थ श्रीमानजी की सेवामें सादर प्रेषत है।
राष्‍ट्रीय सूचना विज्ञान केन्‍द्र, राजस्थान द्वारा जन अभियोग निराकरण विभाग, राजस्थान सरकार के लिये विकसित प्रणाली
2012SGANG2509
2012SLAW50
2012SHRC78


This page:




Help/FAQ | Terms | Imprint
Home People Pictures Videos Sites Blogs Chat
Top
.