peperonity.net
Welcome, guest. You are not logged in.
Log in or join for free!
 
Stay logged in
Forgot login details?

Login
Stay logged in

For free!
Get started!

Text page


fire .................
islamic.jihad.in.india.peperonity.net

हिंदुओ द्वारा शुरूआती जेहाद रोके रखना

मुसलमान, इस्लाम के प्रारम्भ से ही, आज तक सम्पूर्ण भारत को एक इस्लामी राज्य बनाने केउद्‌देश्य से लगातार जिहाद करते चले आ रहे हैं जिसका कि हिन्दू कठोरता से विरोध करते रहे हैं।) – इस्लाम के संस्थापक पैगम्बर मुहम्मद (५७०-६३२ एडी) और पहले खलीफा अबू बकर (६३२-६३४) के काल में भारतपर कोई जिहादी हमला नहीं हो सका। परन्तु दूसरे खलीफा उमर (६३४-६४४) ने कहा ”अल हिन्द की भूमि पर इस्लाम स्थापित होना चाहिए” (मुहम्मद इशाक, पृ. २)। उसके आदेश पर ६३६ में समुद्री मार्ग से सबसे प हला हमला उथमान अल थकवी के नेतृत्व में थाने-बम्बई पर हुआ जो किविफल कर दिया गया। (मिश्रा, हिन्दू रेजिस्टेंस टू अर्ली मुस्लिम इनवेडर्स, पृ. १६) इसी तरह के भरोच और देवल बन्दरगाह पर दो और समुद्री हमले हिन्दुओं ने विफल कर दिए। (मिश्रा, वही, पृ. १६)
खलीफा उमर जो सब जगह इस्लाम की जीत देख रहा था, इस हार से अचम्भिरत हुआ और उसने मकरान (बिलोचिस्तान) के सड़क मार्ग से हमला करने की सोची। मगर इराक के गवर्नर अबू मूसा ने परामर्श दिया कि वह फिलहाल हिन्द के बारे में भूल जाए (मिश्रा, वही, पृ. १७)। इसके बाद तीसरे खलीफा उस्मान (६४४-६५६) ने हमला करने से पहले हिन्द व सिंघ के हालात जानने के लिए हकीम को भेजा जिसने लौटकर परामर्श दिया कि”एक छोटी सेना वहाँ फौरन मारी जाएगी और बड़ी सेना जल्दी ही भूखों मर जाएगी” (चचनामा, खं. १,पृ. ५९-६०; मिश्रा वही, पृ. १७) अतः खलीफा ने भारत पर हमला करने का विचार ही छोड़ दिया। चौथे खलीफा अली (६५६-६६०) ने एक दल भेजा। मगर सारी मुस्लिम सेना हिन्दुओं के हाथों मारी गई। (इलियट एवं डाउसन, खं. १, पृ. ११६, मिश्रा वही पृ. १८)। पाँचवो खलीफा मुवैया (६६१-६८०) के काल में सिंध को जीतने के लिए मुसलमानों के सभी ६ हमले हिन्दुओं ने विफल कर दिए (चचनामा, खं. १, पृ. ६१-६२; मिश्रा वही, पृ. १८)
इसे बाद ६९५ में जब अल-हज्जाक इराक का गवर्नरहुआ तो उसने काबुल व जाबुल पर हमले के आदेश दिए। मगर ये आक्रामक भी हिन्दुओं के हाथों पराजिक हुए (मिश्रा वही, पृ. १८)। इस प्रकार मुसलमानों के भारत पर ६३६ से ७१० एडी तक सभी दसों जिहादी हमले विफल रहे।


This page:




Help/FAQ | Terms | Imprint
Home People Pictures Videos Sites Blogs Chat
Top
.