peperonity.net
Welcome, guest. You are not logged in.
Log in or join for free!
 
Stay logged in
Forgot login details?

Login
Stay logged in

For free!
Get started!

Text page


some.thing.for.you.peperonity.net

sex kia hai

also visit my other sites please click here:-
¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥
a.meri.kavitayen.peperonity.net
¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥
cooking1.peperonity.net
¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥
dil.ki.bat73.peperonity.net
¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥
hindijokes20.peperonity.net
¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥
nude.girls5.peperonity.net
¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥
shushma12.peperonity.net
@@@@@@@@@@@@@@
some.thing.for.you.peperonity.net
¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥
hindiadultsongs11.peperonity.net
¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥
beautiful.heroines73.peperonity.net
¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥
pakistani.hot.girls.peperonity.net
¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥
सेक्स एक शक्ति है, उसको समझिए।हमने सेक्स को सिवाय गाली के आज तक दूसरा कोई सम्मान नहीं दिया। हम तो बात करनेमें भयभीत होते हैं। हमने तो सेक्स को इस भांति छिपा कर रख दिया है जैसे वह है ही नहीं, जैसे उसका जीवन में कोई स्थान नहीं है। जब कि सच्चाई यह है कि उससे ज्यादा महत्वपूर्ण मनुष्य के जीवन में और कुछ भी नहीं है। लेकिन उसको छिपाया है, उसको दबाया है। दबाने और छिपाने से मनुष्य सेक्स से मुक्त नहीं हो गया, बल्कि मनुष्य और भी बुरी तरह से सेक्स से ग्रसित हो गया। दमन उलटे परिणाम लाया है। शायद आपमें से किसी ने एक फ्रेंच वैज्ञानिक कुए के एक नियम के संबंध में सुना होगा। वह नियम है: लॉ ऑफ रिवर्स इफेक्ट। कुए ने एक नियम ईजाद किया है, विपरीत परिणाम का नियम। हम जो करना चाहते हैं, हम इस ढंग से कर सकते हैं कि जो हम परिणाम चाहते थे, उससे उलटा परिणाम हो जाए।कुए कहता है, हमारी चेतना का एक नियम है—लॉ ऑफ रिवर्स इफेक्ट। हम जिस चीज से बचना चाहते हैं, चेतना उसी पर केंद्रित हो जाती है और परिणाम में हम उसी से टकरा जाते हैं।पांच हजार वर्षों से आदमी सेक्स से बचना चाह रहा है और परिणाम इतना हुआ है कि गली-कूचे, हर जगह, जहां भी आदमी जाता है, वहीं सेक्स से टकरा जाता है। वह लॉ ऑफरिवर्स इफेक्ट मनुष्य की आत्मा को पकड़े हुए है।क्या कभी आपने यह सोचा कि आप चित्त को जहां से बचाना चाहते हैं, चित्त वहीं आकर्षित हो जाता है, वहीं निमंत्रित हो जाता है! जिन लोगों ने मनुष्य को सेक्स के विरोध में समझाया, उन लोगों ने ही मनुष्य को कामुक बनाने का जिम्मा भी अपने ऊपर ले लिया है। मनुष्य की अति कामुकता गलत शिक्षाओं का परिणाम है। और आज भी हमभयभीत होते हैं कि सेक्स की बात न की जाए! क्यों भयभीत होते हैं? भयभीत इसलिए होते हैं कि हमें डर है कि सेक्स के संबंध में बात ...


This page:




Help/FAQ | Terms | Imprint
Home People Pictures Videos Sites Blogs Chat
Top
.